गर्भनिरोधक कॉपर टी - उपयोग, फायादे ,नुकसान - Find My Method
 

अंतिम बार संशोधित किया गया मार्च 31st, 2021

non-hormonal-iud
  • छिपाने में आसान। एक छोटा प्लास्टिक और कॉपर (तांबे) का बना गैर– हार्मोनल उपकरण जिसे आपके गर्भाशय (गर्भ) में डाल दिया जाता है।

  • प्रभावकारिताः आईयूडी सबसे प्रभावशाली विधियों में से एक है। इस विधि का प्रयोग करने वाली प्रत्येक 100 में से 99 महिलाएं गर्भ धारण करने से बचीं ।

  • दुष्प्रभावः आपका रक्तस्राव और ऐंठन बढ़ सकता है।

  • प्रयासः निम्न। इसे एक बार डाला जाता है और यह वर्षों तक काम करता है।

  • यौन संचारित संक्रमणों (एसटीआई) के प्रति सुरक्षा प्रदान नहीं करता।

सारांश

गर्भनिरोधक कॉपर टी

आईयूडी प्लास्टिक और तांबे से बना एक छोटा, टी–आकार का टुकड़ा है। यह आपके गर्भाशय में डाला जाता है। तांबा गर्भाशय के वातावरण को थोड़ा बदल देता है और शुक्राणुओं को अंडे तक पहुंचने से रोकता है। आईयूडी 3-12 वर्षों की सुरक्षा प्रदान करता है, यह आपके द्वारा प्रयोग किए जा रहे आईयूडी पर निर्भर करता है। यदि आप गर्भ धारण करना चाहती हैं तो आप आईयूडी को निकलवा सकती हैं।

विवरण

इसे लगवाएं और भूल जाएं। यदि आप अपने गर्भनिरोधक विधि के बारे में याद करने की परेशानी उठाना नहीं चाहतीं तो आईयूडी आपके लिए हो सकता है। एक बार डाले जाने के बाद, आप इसे 3 से 12 वर्षों के लिए छोड़ सकती हैं।

हैंड्स– फ्री। दवाखाने में किसी प्रकार के पैकेज या दवा की पर्ची ले जाने की जरूरत नहीं। ऐसा कुछ नहीं है जो खो जाए या भूला जा सके।

पूरी गोपनीयता। कोई भी यह नहीं बता सकता कि आपने कब आईयूडी का प्रयोग किया। (कुछ पुरुष कह सकते हैं कि उन्होंने धागों को महसूस किया लेकिन किसी और को इसके होने का पता नहीं चलेगा।) इसके लिए कोई पैकेजिंग नहीं होती और यौन– संबंध बनाने से पहले आपको कुछ भी करने की आवश्यकता नहीं है।

महिलाओं के शरीर के लिए सुरक्षित और स्वस्थ। ज्यादातर विशेषज्ञ इस बात से सहमत हैं कि यदि आप स्वस्थ हैं और आपमें गर्भाशय है तो आप आईयूडी के लिए संभवतः अच्छी उम्मीदवार हैं। यदि आप युवा, कभी भी गर्भवती नहीं हुईं हैं, आपका अभी– अभी गर्भपात हुआ है, आप कठिन शारीरिक परिश्रम करती हैं या अभी तक आपके बच्चे नहीं हैं, तब भी यह सच है। नई– नई माँ बनी महिलाओं के लिए भी यह बेहतरीन विधि हैं (आप स्तनपान कराती हों तब भी) ।

गर्भावस्था से संबंधित प्रश्‍न आईयूडी को निकलवाने के तुरंत बाद आपको गर्भवती होने में सक्षम होना चाहिए। यदि आप आईयूडी निकाले जाने के तुरंत बाद गर्भवती होने को तैयार नहीं हैं तो किसी अन्य विधि से स्वयं को सुरक्षित करना सुनिश्चित करें।

उपलब्धता। क्या आप इस विधि का प्रयोग करना पसंद करेंगी ? यह विधि कई देशों में उपलब्ध है। सिर्फ अपने स्थानीय स्वास्थ्य सुविधाओं में जाएं और इसके बारे में पूछें।

प्रयोग कैसे करें

आईयूडी लगवाने का पहला कदम है कि आप अपने डॉक्टर / चिकित्सक से बात करें। वह आपसे प्रश्‍न पूछेंगे या पूछेंगी एवं आईयूडी आपके लिए सही है या नहीं, इसे सुनिश्चित करने के लिए आपकी जांच करेंगे / करेंगी।

आप माह में किसी भी समय आईयूडी गर्भाशय में डलवा सकती हैं। कुछ चिकित्सक आपके मासिक धर्म (पीरियड) के समय इसे गर्भाशय में डालना पसंद करते हैं लेकिन यदि आप अपने गर्भवती न होने के बारे में सुनिश्चित हैं तो इसे किसी भी समय डलवाया जा सकता है। संभव है आपके मासिक धर्म की अवधि के मध्य में (यानि आपके गर्भाशय ग्रीवा, आपके गर्भाशय का मुख्य द्वारा– सबसे अधिक खुलता है) इसे डालना सबसे सहज हो सकता है।

गर्भाशय में आईयूडी डाले जाने के बाद कुछ हद तक ऐंठन महसूस करना सामान्य बात है लेकिन आराम या दर्द निवारक दवाओं के साथ यह दूर हो जाएगा। कुछ महिलाओं को चक्कर भी आ सकते हैं। आईयूडी डाले जाने के बाद, आप अपनी योनि से एक छोटा सा धागा जैसा लटकता हुआ देखेंगे। ऐसा इसलिए ताकि बाद में आईयूडी को निकाला जा सके। (धागे योनि से बाहर नहीं लटकता है)।

भीतर डाले जाने के बाद, आपको एक वर्ष में कभी– कभी धागों के सिरों की जांच करना चाहिए और देखना चाहिए कि वे अपने स्थान पर हैं या नहीं। यह ऐसे किया जाता हैः

साबुन और पानी से अपने हाथों को साफ करें, फिर बैठें या पालथी लगा कर बैठ जाएं।

जब तक आपकी ऊंगली आपकी गर्भाशय ग्रीवा, जो सख्त और आपकी नाक के सिरे के समान रबड़ जैसी होगी, को न स्पर्श करें तब तक अपनी योगी में ऊंगली को उपर की तरफ बढ़ाएं।

धागों को महसूस करें। यदि वे आपके मिल जाएं, तो बधाई हो! आपका आईयूडी सही है। लेकिन यदि आपको आपके गर्भाशय ग्रीवा के विपरीत आईयूडी का सख्त हिस्सा महसूस होता है तो आपको उसे अपने चिकित्सक द्वारा समायोजित करने या बदले जाने की आवश्यकता हो सकती है।

धागों को खींचें नहीं। यदि आप ऐसा करेंगें तो आईयूडी अपनी स्थान से हट जाएगा।

यदि आप धागों की जांच करने में सहज नहीं हैं तो आप आईयूएस डाले जाने के एक महीने और फिर प्रत्येक वर्ष अपने चिकित्सक से ऐसा करवा सकती हैं।

दुष्प्रभाव

प्रत्येक व्यक्ति अलग होता है। आपने जो अनुभव किया है जरूरी नहीं की दूसरे व्यक्ति को भी वही अनुभव हो।

सकारात्मक पक्षः आईयूडी के बारे में ऐसी कई चीजें हैं तो आपके शरीर के साथ– साथ यौन– जीवन के लिए भी अच्छी हैं।

  • प्रयोग में सरल

  • उस पल की गर्माहट को कम नहीं करता

  • बहुत अधिक प्रयास के बिना अधिक समय तक मिलने वाली सुरक्षा

  • धूम्रपान करने वालों एवं उच्च रक्तचाप एवं मधुमेह पीड़ितों के लिए सुरक्षित

  • आईयूडी आपके हार्मोन के स्तरों में परिवर्तन नहीं करता

  • आप स्तनपान करातीं हों तब भी इसका प्रयोग कर सकती हैं।

नकारात्मक पक्षः हर कोई नकारात्मक पक्ष के प्रभावों के बारे में चिंता करता है लेकिन कई महिलाओं के लिए ये समस्या नहीं है। ज्यादातर महिलाएं आईयूडी लगाने के बाद बहुत तेजी से सामान्य महसूस करने लगती हैं लेकिन इसमें कुछ महीनों का समय भी लग सकता है।

सबसे आम शिकायतें :

  • माहवारी के दौरान स्पॉटिंग (विशेष रूप से आईयूडी लगाए जाने के शुरुआती कुछ महीनों में।)

  • मासिक धर्म प्रवाह में बढ़ोतरी

  • ऐंठन और पीठ में दर्द

अन्य मुद्दे जिन पर गौर किया जाना चाहिएः

  • आईयूडी का अपने स्थान से हटना

  • संक्रमण

  • आईयूडी का गर्भाशय की दीवार की तरफ चला जाना

यदि आपको तीन महीनों के बाद आपकी उम्मीद से अधिक दुष्प्रभाव महसूस हो तो विधि को बदल दें और सुरक्षित रहें। याद रखें, प्रत्येक व्यक्ति के लिए, हर जगह विधि उपलब्ध है।

* बहुत कम महिलाओं में गंभीर साइड इफेक्ट्स का जोखिम होता है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्‍न

यहां हम आपकी मदद के लिए हैं। यदि यह अब भी सही नहीं महसूस करा रहा तो हमारे पास अन्य विधियों के विकल्प भी हैं। याद रखें: यदि आपने विधि को बदलने का फैसला किया तो स्विच करने के दौरान खुद को सुरक्षित रखना सुनिश्चित करें। आपकी आवश्यकताओं के अनुसार विधि ढूंढ़ने के दौरान कॉन्डोम्स अच्छी सुरक्षा प्रदान करते हैं।

क्या मेरा आईयूडी मेरे पार्टनर को चोट पहुंचाएगा?

आईयूडी को आपके पार्टनर को चोट नहीं पहुंचाना चाहिए। आपने शायद सुना होगा कि यौन– संबंध बनाने के दौरान आईयूडी के धागे पुरुषों को परेशान कर सकते हैं लेकिन ज्यादातर पार्टनर को धागे महसूस ही नहीं होते। यदि आपके पार्टनर को धागे महसूस होते हैं और वे उन्हें परेशान करते हैं तो आपके चिकित्सक / डॉक्टर उसे काट कर छोटा कर सकते हैं। साथ ही, समय के साथ धागे नरम हो जाते हैं।

क्या मुझे स्पॉटिंग के बारे में परेशान होना चाहिए?

स्पॉटिंग, जो कई अलग– अलग विधियों के समूह के साथ हो सकता है, आपको बहुत अधिक खून बर्बाद नहीं होने देता, हालांकि ऐसा होना लग सकता है।

यदि मेरे पीरियड्स में रक्तस्राव बहुत अधिक हो रहा हो और/या मेरी ऐंठन बहुत अधिक हो तो क्या करूँ?

आईयूडी के साथ ऐसा होना सामान्य है। इसे कुछ महीनों तक इस्तेमाल करें और अपने पीरियड के शुरुआती कुछ दिनों में ibuprofen दवा खाएं।

फिर भी आराम नहीं मिल रहा? यदि आपको आईयूडी के उपयोग में सरलता पसंद आई लेकिन समय या दर्दनिवारक दवाओं से दुष्प्रभाव में कोई आराम महसूस नहीं होता तो इम्प्लान्ट कराने की कोशिश करें।

अलग विधि आजमाएं: इम्प्लान्ट; आईयूएस

यदि मैं गर्भवती होना चाहूँ तो क्या करूँ?

यदि आप गर्भवती होने को तैयार हैं तो अपने चिकित्सक / डॉक्टर से अपना आईयूडी निकालने को कहें। आपका शरीर तेजी से सामान्य हो जाना चाहिए और फिर आपको तुरंत गर्भ धारण करने का प्रयास शुरु कर सकती हैं।

मेरा आईयूडी बाहर निकल गया था। ऐसा फिर से होने की क्या संभावना है?

गर्भाशय में आईयूडी डाले जाने के एक वर्ष के भीतर 2-10% महिलाओं में यह बाहर निकल सकता है। महिलाओं में बाहर निकलने की संभावना बहुत अधिक हो सकती हैः

  • गर्भवती नहीं है

  • 20 वर्ष से कम उम्र की हैं

  • बहुत अधिक या बहुत दर्द भरे पीरियड होते हों

  • जन्म देने के तुरंत बाद या दूसरी– तिमाही में हुए गर्भपात के तुरंत बाद आईयूडी लगवाना।

आंशिक रूप से बाहर निकलने का अर्थ होता है कि आईयूडी उचित स्थान पर नहीं हैः संभव है वह गर्भाशय में बहुत नीचे हो और वह बाहर निकल गया। यह कुछ ऐसा है जो डाले जाने के समय हुआ होगा या गर्भाशय की विशेषताओं जैसे आकार, कोण या फाइब्रॉएड जैसी स्थितियां जो अनियमित आकार की वजह बन सकती हैं, से संबंधित हो सकता है। उन महिलाओं के लिए जिनका आईयूडी बाहर निकल गया हो, 20% की रेंज में (कुछ अध्ययनों में 30% तक) दूसरे आईयूएस के बाहर निकलने की संभावना भी बहुत अधिक हो सकती है।

अब भी काम नहीं कर रहा है? यदि आपको आईयूडी के उपयोग की सरलता पसंद है लेकिन उसके बाहर निकल जाने से सबंधित समस्याएं हैं तो आप इम्प्लान्ट करने का प्रयास कर सकती हैं– यह लंबे समय तक काम करने वाला एवं किफायती विकल्प है।

अलग विधि आजमाएं: इम्प्लान्ट।

क्या आईयूडी को डलवाने के दौरान जख्म हो सकता है?

आईयूडी डलवाने से होने वाला दर्द अलग– अलग लोगों में अलग– अलग होता है। दुर्भाग्यवश, गर्भाशय में इसे डालने के दौरान दर्द कम हो, इसके लिए अभी तक कोई अच्छी दवा नहीं बनाई जा सकी है।

आप गर्भाशय में डाले जाने से पहले ibuprofen दवा खा सकती हैं और सुनिश्चित करें कि जब आईयूडी डाला जाए तब आपके गर्भाशय की ग्रीवा खुली हो जैसे आईयूडी तब डलवाएं जब आपका मासिक धर्म चल रहा हो। यदि तब भी कुछ दर्द हो तब भी वर्षों तक गर्भ–मुक्त यौन–संबंध के लिए यह अच्छा हो सकता है।

मैं अपना आईयूडी निकलवाना चाहती हूँ। क्या इसे मैं खुद निकाल सकती हूँ?

आपको ऑनलाइन कुछ ऐसी कहानियां मिल जाएंगी जिसमें लोगों ने आपना आईयूडी खुद निकाला हो। हम ऐसा करने का सुझाव नहीं देते। ऐसा करना सुरक्षित है या नहीं, इस विषय पर बहुत अधिक शोध नहीं किया गया है। यदि आप अपने आईयूडी से खुश नहीं हैं तो इसे निकालने के लिए अपने चिकित्सक के पास जाने से आपको गर्भ धारण करने से बचने और गर्भ धारण करने के अन्य विकल्पों के बारे में बात करने का अवसर मिलेगा।

यदि आप गर्भ धारण करने को तैयार हैं तो आपको स्वस्थ्य गर्भावस्था के लिए की जाने वाली तैयारी के बारे में अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

फिर भी काम नहीं कर रहा? यदि आप कुछ ऐसा चाहती हैं तो कुछ समय तक चले और उपयोग में भी आसान हो तो इम्प्लान्ट अच्छा और दूसरा विकल्प हो सकता है।

अलग विधि आजमाएं: इम्प्लान्ट।

यदि मैंने आईयूडी लगा रखा हो तो क्या मैं टैम्पन्स का प्रयोग कर सकती हूँ?

जब तक आप सावधानी बरतेंगी और आईयूडी के धागों को बाहर की तरफ नहीं खींचेंगी तब तक आप टैम्पन्स का प्रयोग कर सकती हैं, लेकिन इसके बारे में आपको अधिक परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि टैम्पन का धागा आपके योनि के बाहर होता है और आपके आईयूडी के धागों को आपके गर्भाशय ग्रीवा के आस–पास होना चाहिए। (यदि आप अपने आईयूडी धागों को अपने टैम्पन के धागों के आसपास कहीं पाएं तो आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए।)

References

[1] Arrowsmith, et al. (2013). Strategies for improving the acceptability and acceptance of the copper intrauterine device. Cochrane Database of Systematic Reviews. Retrieved from https://www.cochranelibrary.com/es/cdsr/doi/10.1002/14651858.CD008896.pub2/abstract
[2] BATESON, D., & McNAMEE, K. (2016). Intrauterine contraception A best practice approach across the reproductive lifespan. Medicine Today. Retrieved from https://www.shinesa.org.au/media/2016/07/Intrauterine-contraception-A-best-practice-approach-Medicine-Today.pdf
[3] Dr Marie Marie Stopes International. (2017). Contraception. Retrieved from http://www.mariestopes.org.au/wp-content/uploads/Contraception-brochure-web-200417.pdf
[4] FSRH The Faculty of Sexual & Reproductive Healthcare. (Amended 2019). UK MEDICAL ELIGIBILITY CRITERIA. RCOG, London. Retrieved from https://www.fsrh.org/standards-and-guidance/documents/ukmec-2016/
[5] FPA the sexual health charity. (2017). Your guide to the IUD: Helping you choose the method of contraception that’s best for you. Retrieved from https://www.fpa.org.uk/sites/default/files/intrauterine-device-iud-your-guide.pdf
6] IFPA Sexuality, Information, Reproductive Health and Rights. (2009). Copper intrauterine devices (IUCD). Dublin. Retrieved from https://www.ifpa.ie/sites/default/files/documents/media/factsheets/iucd.pdf
[7] Nelson, A. L., & Massoudi, N. (2016). New developments in intrauterine device use: focus on the US. Retrieved from https://www.dovepress.com/new-developments-in-intrauterine-device-use-focus-on-the-us-peer-reviewed-fulltext-article-OAJC
[8] Planned Parenthood. (2020). What are the benefits of IUDs? Retrieved from Planned Parenthood https://www.plannedparenthood.org/learn/birth-control/iud/what-are-the-benefits-of-iuds
[9] Pathfinder International. (2008). Intrauterine Devices (IUDs): Trainer’s Guide. Retrieved from http://www2.pathfinder.org/site/DocServer/IUD2E_combined.pdf?docID=11263
[10] Reproductive Health Access Project. (2017). IUD Information. Retrieved fromhttps://www.reproductiveaccess.org/wp-content/uploads/2014/06/IUD_facts.pdf
[11] Reproductive Health Access Project. (2015). Copper IUD. Retrieved from https://www.reproductiveaccess.org/wp-content/uploads/2014/12/factsheet_iud_copper.pdf
[12] Society of Obstetricians and Gynaecologists of Canada. (2016). Canadian Contraception Consensus: Chapter 7 Intrauterine Contraception. JOGC. Retrieved from https://www.jogc.com/article/S1701-2163(15)00024-9/pdf
[13] Shefras and Forsythe. (2019). Copper intrauterine device IUD. Oxford University Hospitals NHS Foundation Trust. Retrieved from https://www.ouh.nhs.uk/patient-guide/leaflets/files/43583Pcopper.pdf
[14] Sanders, et al. (2018). Bleeding, cramping, and satisfaction among new copper IUD users: A prospective study. PLOS. Retrieved from https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6221252/
[15] Tudorache, et al. (2017). Birth Control and Family Planning Using Intrauterine Devices (IUDs). Retrieved from https://www.intechopen.com/books/family-planning/birth-control-and-family-planning-using-intrauterine-devices-iuds-
[16] World Health Organization Department of Reproductive Health and Research and Johns Hopkins Bloomberg School of Public Health Center for Communication Programs (2018) Family Planning: A Global Handbook for Providers. Baltimore and Geneva. Retrieved from https://apps.who.int/iris/bitstream/handle/10665/260156/9780999203705-eng.pdf?sequence=1
[17] World Health Organization. (2016). Selected practice recommendations for contraceptive use. Geneva. Retrieved from https://apps.who.int/iris/bitstream/handle/10665/252267/9789241565400-eng.pdf?sequence=1


lang हिन्दी