हार्मोनल आईयूडी - लीवोनोजेस्ट्रल इंट्रायूरीन डिवाइस पद्धति- Find My Method
 

अंतिम बार संशोधित किया गया मार्च 31st, 2021

iud-levonorgestrel-intrauterine-device
  • छिपाने में आसान। छोटा प्लास्टिक से बना अंग्रेजी वर्णमाला के टी (T) अक्षर के आकार का उपकरण जिसे आपके गर्भाशय (गर्भ) में डाल दिया जाता है और वह प्रोजेस्टोजेन हार्मोन जारी करता है।
  • प्रभावशीलताः आईयूएस (IUS) सबसे प्रभावी पद्धतियों में से एक है। इस विधि का प्रयोग करने वाली प्रत्येक 100 में से 99 महिलाएं गर्भधारण से बच जाती हैं।
  • दुष्प्रभाव/ साइड इफेक्ट्सः आपका रक्त स्राव और नसों में ऐठन बढ़ सकती है।
  • प्रयासः कम। इसे एक बार डाला जाता है और यह प्रकार के अनुसार यह 3, 4 या 5 वर्षों तक प्रभावी रहता है।
  • यह यौन संचारित संक्रमणों (एसटीआई) के प्रति सुरक्षा प्रदान नहीं करता।
  • आपातकालीन गर्भनिरोधक का काम नहीं करता। इसकी बजाए गैर– हार्मोनल आईयूडीका प्रयोग करें।

सारांश

हार्मोनल आईयूडी

आईयूडी (लीवोनोजेस्ट्रल इंट्रायूरीन डिवाइस) एक हार्मोनल विधि है। यह छोटा. टी (T)– आकार का प्लास्टिक का टुकड़ा होता है। आईयूडी को गर्भाशय में डाला जाता है। डाले जाने के बाद, यह गर्भाशय की झिल्ली को पतला और गर्भाशय के श्लेष्म को मोटा बना देता है। यह शुक्राणुओं को अंडे से मिलने और गर्भाधान होने से रोकता है। आईयूडी 3, 4 या 5 वर्षों तक की सुरक्षा प्रदान करता है (प्रकार के अनुसार)। यदि आप गर्भ धारण करना चाहती हैं तो आईयूडी को निकलवा सकती हैं।

विवरण

इसे लगवाएं और भूल जाएं। यदि आप अपने गर्भ निरोधक विधि के बारे में याद रखने की परेशानी से बचना चाहतीं तो आईयूएस आप जैसों के लिए हो सकता है। गर्भाशय में डाले जाने के बाद, आप इसे 3, 4 या 5 वर्षों के लिए छोड़ सकती हैं।
हैंड्स– फ्री। दवाखाने में किसी प्रकार के पैकेज या दवा की पर्ची ले जाने की जरूरत नहीं। ऐसा कुछ नहीं है जो खो जाए या भूला जा सके। पूरी गोपनीयता। कोई भी यह नहीं बता सकता कि आपने कब आईयूएस का प्रयोग किया। इसके लिए कोई पैकेजिंग नहीं होती और यौन– संबंध बनाने से पहले आपको कुछ भी करने की आवश्यकता नहीं है। महिलाओं के शरीर के लिए सुरक्षित और स्वस्थ। ज्यादातर विशेषज्ञ इस बात से सहमत हैं कि यदि आप स्वस्थ हैं और आपमें गर्भाशय है तो आप आईयूएस के लिए संभवतः अच्छी उम्मीदवार हैं। यदि आप युवा हैं, कभी भी गर्भवती नहीं हुईं हैं, आपका अभी– अभी गर्भपात हुआ है, आप कठिन शारीरिक श्रम करती हैं या अभी तक आपके बच्चे नहीं हैं, तब भी यह सच है। नई– नई माँ बनी महिलाओं के लिए भी यह बेहतरीन विधि हैं (आप स्तनपान कराती हों तब भी) ।
गर्भावस्था से संबंधित प्रश्‍न। आईयूएस को निकलवाने के तुरंत बाद आपको गर्भवती होने में सक्षम होना चाहिए। यदि आप आईयूएस निकाले जाने के तुरंत बाद गर्भवती होने को तैयार नहीं हैं तो किसी अन्य विधि से स्वयं को सुरक्षित करना सुनिश्चित करें।
उपलब्धता। क्या आप इस विधि का प्रयोग करना पसंद करेंगीयह विधि कई देशों में उपलब्ध है। सिर्फ अपने स्थानीय स्वास्थ्य सुविधाओं में जाएं और इसके बारे में पूछें।

प्रयोग कैसे करें

आईयूएस लगवाने का पहला कदम है कि आप अपने डॉक्टर/ चिकित्सक से बात करें। वह आपसे प्रश्‍न पूछेंगे या पूछेंगी एवं आईयूएस आपके लिए सही है या नहीं, इसे सुनिश्चित करने के लिए आपकी जांच करेंगे/करेंगी।

आप माह में किसी भी समय आईयूएस गर्भाशय में डलवा सकती हैं। कुछ चिकित्सक आपके मासिक धर्म (पीरियड) के समय इसे गर्भाशय में डालना पसंद करते हैं लेकिन यदि आप अपने गर्भवती न होने के बारे में सुनिश्चित हैं तो इसे किसी भी समय डलवाया जा सकता है। संभव है आपके मासिक धर्म की अवधि के मध्य में (यानि जब आपके गर्भाशय ग्रीवा, आपके गर्भाशय का मुख्य द्वार– सबसे अधिक खुलता है).

इसे डालना सबसे सहज हो सकता है।

गर्भाशय में आईयूएस डाले जाने के बाद कुछ हद तक ऐंठन महसूस करना सामान्य बात है लेकिन आराम या दर्द निवारक दवाओं से यह दूर हो जाएगा। कुछ महिलाओं को चक्कर भी आ सकते हैं। आईयूएस डाले जाने के बाद, आप अपनी योनि से एक छोटा सा धागा जैसा लटकता हुआ देखेंगीं। ऐसा इसलिए ताकि बाद में आईयूएस को निकाला जा सके। (धागे योनि से बाहर नहीं लटकता है)

भीतर डाले जाने के बाद, आपको एक वर्ष में कभी– कभी धागों के सिरों की जांच करनी चाहिए और देखना चाहिए कि वे अपने स्थान पर हैं या नहीं। यह ऐसे किया जाता हैः

साबुन और पानी से अपने हाथों को साफ करें, फिर बैठें या पालथी लगा कर बैठ जाएं।

जब तक आपकी ऊंगली आपकी गर्भाशय ग्रीवा, जो सख्त और आपकी नाक के सिरे के समान रबड़ जैसी होगी, को न स्पर्श करें तब तक अपनी योगी में ऊंगली को उपर की तरफ बढ़ाएं।

धागों को महसूस करें। यदि वे आपके मिल जाएं, तो बधाई हो! आपका आईयूएस सही है। लेकिन यदि आपको आपके गर्भाशय ग्रीवा के विपरीत आईयूएस का सख्त हिस्सा महसूस होता है तो आपको उसे अपने चिकित्सक द्वारा समायोजित करने या बदले जाने की आवश्यकता हो सकती है।

धागों को खींचें नहीं। यदि आप ऐसा करेंगें तो आईयूएस अपनी स्थान से हट जाएगा।

यदि आप धागों की जांच करने में सहज नहीं हैं तो आप आईयूएस डाले जाने के एक महीने और फिर प्रत्येक वर्ष अपने चिकित्सक से इसकी जांच करवा सकती हैं।

दुष्प्रभाव

प्रत्येक व्यक्ति अलग होता है। आपने जो अनुभव किया है जरूरी नहीं की दूसरे व्यक्ति को भी वही अनुभव हो।

सकारात्मक पक्षः आईयूएस के बारे में ऐसी कई चीजें हैं तो आपके शरीर के साथ– साथ आपके यौन– जीवन के लिए भी अच्छी हैं।

  • प्रयोग में सरल

  • उस पल की गर्माहट को कम नहीं करता

  • बहुत अधिक प्रयास के बिना अधिक समय तक मिलने वाली सुरक्षा

  • धूम्रपान करने वालों एवं उच्च रक्तचाप एवं मधुमेह पीड़ितों के लिए सुरक्षित

  • आप स्तनपान करातीं हों तब भी इसका प्रयोग कर सकती हैं

  • यह गर्दन और अन्तर्गर्भाशयकला कैंसर से सुरक्षा प्रदान कर सकता है

  • यह एंडोमेट्रोसिस के लक्षणों को कम करता है

नकारात्मक पक्षः हर कोई नकारात्मक पक्ष के प्रभावों के बारे में चिंता करता है लेकिन कई महिलाओं के लिए ये समस्या नहीं है। ज्यादातर महिलाएं आईयूएस लगाने के बाद बहुत तेजी से सामान्य महसूस करने लगती हैं लेकिन इसमें कुछ महीनों का समय भी लग सकता है।

सबसे आम शिकायतें :

  • माहवारी में परिवर्तन आम है लेकिन हानिकारक नहीं। आमतौर पर रक्त स्राव का कम होना और माहवारी का कम दिनों तक रहना या असामान्य या अनियमित रक्तस्राव।

  • ऐंठन और पीठ में दर्द

  • मुंहासे

  • मिज़ाज का बदलना

अन्य मुद्दे जिन पर गौर किया जाना चाहिएः

  • आईयूएस का अपने स्थान से हटना

  • संक्रमण

  • आईयूएस का गर्भाशय की दीवार की तरफ चला जाना

यदि आपको तीन महीनों के बाद आपकी उम्मीद से अधिक दुष्प्रभाव महसूस हो तो विधि को बदल दें और सुरक्षित रहें। याद रखें, प्रत्येक व्यक्ति के लिए, हर जगह विधि उपलब्ध है।

* बहुत कम महिलाओं में गंभीर दुष्प्रभाव का जोखिम होता है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्‍न

यहां हम आपकी मदद के लिए हैं। यदि यह अब भी सही नहीं महसूस करा रहा तो हमारे पास अन्य विधियों के विकल्प भी हैं। याद रखें: यदि आपने विधि को बदलने का फैसला किया तो स्विच करने के दौरान खुद को सुरक्षित रखना सुनिश्चित करें। आपकी आवश्यकताओं के अनुसार विधि ढूंढ़ने के दौरान कॉन्डोम्स अच्छी सुरक्षा प्रदान करते हैं।

क्या मेरा आईयूएस मेरे पार्टनर को चोट पहुंचाएगा?

आईयूएस को आपके पार्टनर को चोट नहीं पहुंचाना चाहिए। आपने शायद सुना होगा कि यौन– संबंध बनाने के दौरान आईयूएस धागे पुरुषों को परेशान कर सकते हैं लेकिन ज्यादातर पार्टनर को धागे महसूस ही नहीं होते। यदि आपके पार्टनर को धागे महसूस होते हैं और वे उन्हें परेशान करते हैं तो आपके चिकित्सक / डॉक्टर उसे काट कर छोटा कर सकते हैं। साथ ही, समय के साथ धागे नरम हो जाते हैं।

यदि मेरी माहवारी के दर्द/ ऐंठन बहुत बढ़ जाए तो?

इसे कुछ महीनों तक आजमाएं और अपनी माहवारी के शुरुआती कुछ दिनों में आईब्रूफेन (ibuprofen) दवा लें ।

फिर भी आराम नहीं मिल रहा ? यदि आपको आईयूएस के उपयोग में सरलता पसंद आई लेकिन समय या दर्दनिवारक दवाओं से साइड इफेक्ट में कोई आराम महसूस नहीं होता तो इम्प्लान्ट कराने की कोशिश करें।

अलग विधि का प्रयास करें : इम्प्लान्ट

यदि मैं गर्भवती होना चाहूँ तो क्या करूँ?

यदि आप गर्भवती होने को तैयार हैं तो अपने चिकित्सक / डॉक्टर से अपना आईयूएस निकालने को कहें। आपका शरीर तेजी से सामान्य हो जाना चाहिए और फिर आपको तुरंत गर्भ धारण करने का प्रयास शुरु कर सकती हैं।

मेरा आईयूएस बाहर निकल गया था। ऐसा फिर से होने की क्या संभावना है?

गर्भाशय में आईयूएस डाले जाने के एक वर्ष के भीतर बहुत कम महिलाओं में इसके बाहर निकलने की घटना देखी गई है। उन महिलाओं में बाहर निकलने की संभावना बहुत अधिक हो सकती है जोः

  • गर्भवती नहीं है

  • 20 वर्ष से कम उम्र की हैं

  • बहुत अधिक या बहुत दर्द भरे पीरियड (माहवारी / मासिक धर्म) होते हों

  • जन्म देने के तुरंत बाद या दूसरी– तिमाही में हुए गर्भपात के तुरंत बाद आईयूएस लगाया गया हो

आंशिक रूप से बाहर निकलने का अर्थ होता है कि आईयूएस उचित स्थान पर नहीं हैः संभव है वह गर्भाशय में बहुत नीचे हो और वह बाहर निकल गया। यह कुछ ऐसा है जो डाले जाने के समय हुआ होगा या गर्भाशय की विशेषताओं जैसे आकार, कोण या फाइब्रॉएड जैसी स्थितियां जो अनियमित आकार की वजह बन सकती हैं, से संबंधित हो सकता है। उन महिलाओं के लिए जिनका आईयूएस बाहर निकल गया हो, दूसरे आईयूएस के बाहर निकलने की संभावना भी बहुत अधिक हो सकती है।

अब भी काम नहीं कर रहा है ? यदि आपको आईयूएस के उपयोग की सरलता पसंद है लेकिन उसके बाहर निकल जाने से सबंधित समस्याएं हैं तो आप इम्प्लान्ट करने का प्रयास कर सकती हैं– यह लंबे समय तक काम करने वाला एवं किफायती विकल्प है।

अलग विधि आजमाएं : इम्प्लान्ट का प्रयोग करें

क्या आईयूएस को डलवाने के दौरान जख्म हो सकता है ?

आईयूएस डलवाने से होने वाला दर्द अलग– अलग लोगों में अलग– अलग होता है। दुर्भाग्यवश, गर्भाशय में इसे डालने के दौरान दर्द कम हो, इसके लिए अभी तक कोई अच्छी दवा नहीं बनाई जा सकी है।

आप गर्भाशय में डाले जाने से पहले ibuprofen दवा खा सकती हैं और सुनिश्चित करें कि जब आईयूएस डाला जाए तब आपके गर्भाशय की ग्रीवा खुली हो जैसे आईयूएस तब डलवाएं जब आपका मासिक धर्म चल रहा हो। यदि तब भी कुछ दर्द हो तब भी वर्षों तक गर्भ–मुक्त यौन–संबंध के लिए यह अच्छा हो सकता है।

मैं अपना आईयूएस निकलवाना चाहती हूँ। क्या इसे मैं खुद निकाल सकती हूँ ?

आपको ऑनलाइन कुछ ऐसी कहानियां मिल जाएंगी जिसमें लोगों ने आपना आईयूएस खुद निकाला हो। हम ऐसा करने का सुझाव नहीं देते। ऐसा करना सुरक्षित है या नहीं, इस विषय पर बहुत अधिक शोध नहीं किया गया है। यदि आप अपने आईयूएस से खुश नहीं हैं तो इसे निकालने के लिए अपने चिकित्सक के पास जाने से आपको गर्भ धारण करने से बचने और गर्भ धारण करने के अन्य विकल्पों के बारे में बात करने का अवसर मिलेगा।

यदि आप गर्भ धारण करने को तैयार हैं तो आपको स्वस्थ्य गर्भावस्था के लिए की जाने वाली तैयारी के बारे में अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

फिर भी काम नहीं कर रहा ? यदि आप कुछ ऐसा चाहती हैं तो कुछ समय तक चले और उपयोग में भी आसान हो तो इम्प्लान्ट अच्छा और दूसरा विकल्प हो सकता है।

अलग विधि आजमाएं : इम्प्लान्ट का प्रयोग करें

यदि मुझे एचआईवी है तो क्या मैं आईयूएस का प्रयोग कर सकती हूँ?
एचआईवी से पीड़ित महिलाएं, चाहे वे एंटीरेट्रोवाइरल थेरेपी करा रही हों या नहीं, यदि उन्हें छोटी– मोटी या कोई भी नैदानिक बीमारी न हो तो सुरक्षित रूप से आईयूएस का प्रयोग कर सकती हैं।

यदि मैंने आईयूएस लगा रखा हो तो क्या मैं टैम्पन्स का प्रयोग कर सकती हूँ ?

जब तक आप सावधानी बरतेंगी और आईयूएस के धागों को बाहर की तरफ नहीं खींचेंगी तब तक आप टैम्पन्स का प्रयोग कर सकती हैं, लेकिन इसके बारे में आपको अधिक परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि टैम्पन का धागा आपके योनि के बाहर होता है और आपके आईयूएस के धागों को आपके गर्भाशय ग्रीवा के आस–पास होना चाहिए। (यदि आप अपने आईयूएस धागों को अपने टैम्पन के धागों के आसपास कहीं पाएं तो आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए क्योंकि आपका आईयूएस बाहर निकल सकता है।)

References

[1] BATESON, D., & McNAMEE, K. (2016). Intrauterine contraception A best practice approach across the reproductive lifespan. Medicine Today. Retrieved from https://www.shinesa.org.au/media/2016/07/Intrauterine-contraception-A-best-practice-approach-Medicine-Today.pdf
[2] Dr Marie Marie Stopes International. (2017). Contraception. Retrieved from http://www.mariestopes.org.au/wp-content/uploads/Contraception-brochure-web-200417.pdf
[3] Faculty of Sexual & Reproductive Healthcare. (Amended 2019). Faculty of Sexual & Reproductive Healthcare Clinical Guidance: Intrauterine Contraception Clinical Effectiveness Unit. RCOG. Retrieved from https://www.fsrh.org/standards-and-guidance/documents/ceuguidanceintrauterinecontraception/
[4] Family Planning NT. (2016). Intra Uterine Contraceptive Device (IUD or IUCD). Retrieved from http://www.fpwnt.com.au/365_docs/attachments/protarea/IUD-46c2853c.pdf
[5] FSRH The Faculty of Sexual & Reproductive Healthcare. (Amended 2019). UK MEDICAL ELIGIBILITY CRITERIA. RCOG, London. Retrieved from https://www.fsrh.org/standards-and-guidance/documents/ukmec-2016/
[6] Nelson, A. L., & Massoudi, N. (2016). New developments in intrauterine device use: focus on the US. Retrieved fromhttps://www.dovepress.com/new-developments-in-intrauterine-device-use-focus-on-the-us-peer-reviewed-fulltext-article-OAJC
[7] Society of Obstetricians and Gynaecologists of Canada. (2016). Canadian Contraception Consensus: Chapter 7 Intrauterine Contraception. JOGC. Retrieved from https://www.jogc.com/article/S1701-2163(15)00024-9/pdf
[8] Tudorache, et al. (2017). Birth Control and Family Planning Using Intrauterine Devices (IUDs). Retrieved from
[9] World Health Organization Department of Reproductive Health and Research and Johns Hopkins Bloomberg School of Public Health Center for Communication Programs. (2018). Family Planning: A Global Handbook for Providers. Baltimore and Geneva. Retrieved from https://apps.who.int/iris/bitstream/handle/10665/260156/9780999203705-eng.pdf?sequence=1
[10] World Health Organization. (2016). Selected practice recommendations for contraceptive use. Geneva. Retrieved from https://apps.who.int/iris/bitstream/handle/10665/252267/9789241565400-eng.pdf?sequence=1


lang हिन्दी