emergency-contraception-pills
  • जब कोई व्यक्ति असुरक्षित यौन संबंध बनाता है (सहमति से या बिना सहमति के) या जब विधि असफल हो जाती है तो ईसी संभावित गर्भधारण से बचाता है। आप ईसी की गोलियां या गैर– हार्मोनल आईयूडी का प्रयोग कर सकती हैं।

  • प्रभावकारिताः ईसी के विकल्प बहुत प्रभावी हैं। इस्तेमाल करने वाले प्रत्येक 100 में से 99 महिलाएं गर्भधारण करने से बच जाती हैं। हालांकि, यौन संबंध बनाने से पहले या बनाने के दौरान आप जिन विधियों का प्रयोग कर सकते हैं, अधिक लाभ दे सकती हैं।

  • दुष्प्रभावः कॉपर आईयूडी से आपका रक्त स्राव, ऐंठन बढ़ सकता है; ईसी गोलियां आपका पेट खराब कर सकती हैं या आपको इसके खाने के बाद उल्टियां आ सकती हैं।

  • प्रयासः विविधः कॉपर आईयूडी के साथ इसे एक बार शरीर में डाल दिया जाता है और यह वर्षों तक काम करता है। गोलियों की संख्या और खुराक ब्रांड पर निर्भर करती है।

  • यौन संचारित संक्रमणों (एसटीआई) के प्रति सुरक्षा प्रदान नहीं करता।

Living in Ghana, Liberia, Nigeria or Sierra Leone? Get more information

सारांश

आपातकालीन गर्भनिरोधक

आपातकालीन गर्भनिरोधक (ईसी) गर्भावस्था को शुरु होने से पहले ही रोक सकता है। (इसका अर्थ है ईसी गोलियां गर्भपात की गोलियों जैसी नहीं होती)। आप जिस स्थान पर रहती हैं उसके आधार पर आपके पास कई प्रकार के ईसी में से चुनाव करने का विकल्प होता है। ज्यादातर प्रकार असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद 5 दिनों (या 120 घंटों) तक प्रभावी होती हैं और जितनी जल्दी आप इसका प्रयोग करेंगी, यह उतना ही अधिक प्रभावी होगा।

आपातकालीन गर्भनिरोधक के उदाहरणः

यूलिप्रिस्टल एसीटेट वाली गोलियां। ईसी का यह नया रूप एक गोली की खुराक वाला है जो अन्य ईसी गोलियों के मुकाबले असुरक्षित यौन संबंध बनाए जाने के बाद 5 दिनों तक काम करता है और उन 5 दिनों के दौरान प्रभाव को कम नहीं होने देता।

लीवोनोजेस्ट्रल वाली गोलियां: लिडिया पोस्टपिल, पोस्टिनॉर 2, नॉरपिल, अनवान्टेड 72, नोविल पिल, प्लान बी वन– स्टेप, नेक्स्ट च्वाइस वन डोज, नेक्स्ट च्वाइस, माई वे, आफ्टर पिल, लीवोनोजेस्ट्रल। ये दवाएं डॉक्टर की पर्ची के साथ या उसके बिना भी दवाखाने से मिल सकती हैं। यह आपके निवास देश के नियमों पर निर्भर करता है। ये अन्य गर्भनिरोधक गोलियों के जैसी होती हैं लेकिन इनकी खुराक बहुत अधिक होती है। असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद ये 5 दिनों तक काम कर सकती हैं लेकिन प्रत्येक अगले दिन इसका प्रभाव कम होता जाता है। यदि आप इस विधि का प्रयोग करना चाहती हैं तो आपको असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद जितनी जल्दी हो सके इसका प्रयोग कर लेना चाहिए।

गैर– हार्मोनल आईयूडी। यह सबसे प्रभावी ईसी है। असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद डॉक्टर से 5 दिनों के भीतर लगवाएं। यह आपके गर्भधारण की संभावना को 99.9% कम कर देगा।

यूजपे विधि। यदि आप विशिष्ट चरणों का पालन करती हैं तो आप विशेष नियमित गर्भनिरोधक गोलियों को ईसी की तरह इस्तेमाल कर सकती हैं (नीचे दिए “How to use it” खंड को देखें।) अन्य ईसी विकल्पों के मुकाबले यह उतना प्रभावी नहीं होता। असुरक्षित यौन संबंध बनाने के 3 दिनों तक ही सबसे अच्छा काम करता है।

विवरण

यदि आपके गर्भनिरोधक उपाय में कोई चूक हो जाए। यदि कॉन्डोम टूट जाए या आप अपनी गोली खाना, छल्ला (रिंग) लगाना, पट्टी (पैच) लगाना भूल जाएं, या आपका डायफ्राम अपनी जगह से हट जाए– ऐसा कुछ भी हो तो आप ईसी का प्रयोग करना चाहेंगी।

निकालने के दौरान गलती हो गई। यदि आपको लगता है कि आपके पार्टनर ने सही समय पर बाहर नहीं निकाला तो आप ईसी का प्रयोग कर सकती हैं।

आप उस पल में सब भूल गईं। यदि आपने यौन संबंध बनाने के दौरान किसी भी प्रकार की सुरक्षा का उपयोग नहीं किया और आप गर्भवती भी नहीं होना चाहती तो ईसी के बारे में सोचें। लेकिन सुनिश्चित करें कि आप असुरक्षित यौन संबंध बनाने के पांच दिनों के भीतर इसका प्रयोग कर लें।

डरावनी स्थितियों के लिए। यदि आपका बलात्कार हो जाता है या आप ऐसे व्यक्ति के साथ यौन संबंध बनाती हैं जो गर्भनिरोध के अन्य किसी भी रूप को अपनाने से इनकार कर देता है तो ई सी पर विचार करें।

हमेशा अपने पास रखें। आप जितनी जल्दी ईसी लेंगी वह उतना ही अधिक प्रभावी होगा। इसलिए यदि आपको इसकी जरूरत हो तो अपने पास विभिन्न प्रकार की ईसी गोलियों में से किसी भी एक प्रकार की गोली का रखना बुरा नहीं है।

ऐसी ईसी जो काम करता रहे। यदि आपको ईसी की आवश्यकता महसूस हो और आप इसका दीर्घकालिक समाधान चाहती हों तो कॉपर आईयूडी सबसे प्रभावी ईसी विकल्प है। इसे असुरक्षित यौन संबंध बनाने के 5 दिनों तक लगवाया जा सकता है। आपके पास 12 वर्षों तक का सरल और बेहद प्रभावी विधि होगी।

प्रयोग कैसे करें

हालांकि ईसी अपना काम करता है लेकिन अन्य विकल्प भी हैं जो दीर्घकालिक लाभ देते हैं और जो यौन क्रिया के दौरान आपको अधिक आराम महसूस करने में मदद करेंगे। यदि आपने असुरक्षित यौन संबंध बनाया है तो यौन संबंध बनाने के बाद यह सबसे त्वरित एवं सरल विकल्प है। ये कुछ प्रकार हैं जिनमें से आप चुनाव कर सकती हैं।

यूलिप्रिस्टल एसीटेट वाली गोलियां। असुरक्षित यौन संबंध बनाए जाने के बाद 5 दिनों के भीतर खाई जाने वाली एक गोली के सूत्र को अपनाएं।

लीवोनोजेस्ट्रल वाली गोलियां: सभी लीवोनोजेस्ट्रल –युक्त ईसी गोलियां नियमित गर्भनिरोधक गोलियों के जैसे काम करती हैं लेकिन बहुत अधिक खुराक पर और इसे अस्थायी रूप से लिया जाता है। इनकी खुराक बहुत अधिक होती है। असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद जितनी जल्दी इसे लिया जाएगा उतना ही अधिक यह प्रभावी होगा हालांकि असुरक्षित यौन संबंध बनाए जाने के 5 दिनों तक इसे लिया जा सकता है।

गैर– हार्मोनल आईयूडी। यह सबसे प्रभावी ईसी है। असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद डॉक्टर से 5 दिनों के भीतर लगवाएं। यह आपके गर्भधारण की संभावना को 99.9% कम कर देगा। इसके लिए आपको डॉक्टर से मिलना होगा और इस प्रक्रिया को पूरा कराना होगा।

यूजपे रेजिमैन। कुछ विशेष प्रकार की नियमित गर्भनिरोधक गोलियों को ईसी की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है। यदि आप यूजपे रेजिमैन विधि को अपनाती हैं तो आपको 12 घंटे के अंतराल पर गोलियों की दो खुराक लेनी होगी। और यह सिर्फ कुछ ही ब्रांड के साथ काम करता है।

अन्य ईसी विकल्पों के मुकाबले यह उतना प्रभावी नहीं होता। असुरक्षित यौन संबंध बनाने के 3 दिनों तक ही सबसे अच्छा काम करता है।

याद रखें: असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद जितनी जल्द हो सके ईसी का प्रयोग करें। जितनी जल्द आप इसे लेंगी, उतनी ही अच्छी तरह यह काम करेगी– 24 घंटों से तीन दिनों के भीतर लेना आदर्श माना जाता है। आपातकालीन गर्भनिरोधक अभी भी 5 दिनों तक आपके गर्भवती होने के जोखिम को कम कर देगा।

दुष्प्रभाव

प्रत्येक व्यक्ति अलग होता है। आपने जो अनुभव किया वैसा ही अनुभव दूसरे व्यक्ति को हो, ऐसा जरूरी नहीं है।

सकारात्मक पक्षः ईसी के विकल्पों के बारे में ऐसी कई बातें हैं जो आपके शरीर के साथ–साथ आपके यौन जीवन के लिए भी अच्छी हैं।

  • असुरक्षित यौन संबंध बनाने या सुरक्षा उपाय के विफल होने पर सुरक्षा एवं मन की शांति देता है।

नकारात्मक पक्षः प्रत्येक व्यक्ति नकारात्मक प्रभाव के बारे में चिंता करता है लेकिन कई महिलाओं के लिए यह कोई चिंता की बात नहीं होती। और यदि आपको भी ईसी के दुष्प्रभाव महसूस होते हैं तो संभव है वे 24 घंटों के बाद समाप्त हो जाएं।

  • यूलीप्रिस्टल एसीटेट और लेवोनॉर्गेस्ट्रेल वाली गोलियां आपके पेट को खराब कर सकती हैं या उल्टी ला सकती हैं।

  • स्तनों को ढीला बना सकती हैं, अनियमित मासिक धर्म, चक्कर आना और सिर में दर्द की वजह बन सकती हैं। कुछ देशों में इन दवाओं को खरीदने के लिए डॉक्टर की पर्ची की आवश्यकता होती है। अधिक जानकारी के लिए Methods in Your Country देखें।

  • यूजपे रेजिमैन

  • पेट खराब और उल्टी हो सकती है।

  • स्तनों को ढीला बना सकती हैं, अनियमित मासिक धर्म, चक्कर आना और सिर में दर्द की वजह बन सकती हैं।

  • महिलाओं पर अन्य ईसी गोलियों के मुकाबले यूजपे से अधिक दुष्प्रभाव अधिक पड़ते हैं– विशेष कर मतली आना।

  • यह आपके ईसी विकल्पों में से सबसे कम प्रभावी विकल्प है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्‍न

गर्भनिरोधक की प्राथमिक विधि के तौर पर आपातकालीन गर्भनिरोधक की संस्तुति नहीं की जाती है। यदि आपको अपने वर्तमान विधि से परेशानी है तो आप कम–रखरखाव वाली विधियों जैसे आईयूडी या इम्प्लान्ट पर स्विच करना पसंद कर सकती हैं। यदि आपने विधियों को बदलने का निर्णय ले लिया है तो स्विच करने के दौरान खुद को सुरक्षित रखना सुनिश्चित करें। आपकी जरूरतों के अनुसार विधि ढूंढ़ने के दौरान कॉन्डोम अच्छी सुरक्षा प्रदान करेंगे।

क्या आपातकालीन गर्भनिरोधक गर्भपात की गोली के जैसे ही काम करता है?

  • यदि आप पहले से ही गर्भवती हैं (यदि आपको अभी तक इसका पता न हो तब भी), तो ईसी काम नहीं करेगा। ईसी सिर्फ गर्भधारण करने से सुरक्षा प्रदान करता है। यह पहले से गर्भवती हो चुकी महिलाओं का गर्भ नहीं गिराता। और यदि आपको यह नहीं पता कि आप गर्भवती हैं और गलती से ईसी का सेवन कर लेती हैं तो इससे आपके गर्भ में कोई हानिकारक प्रभाव नहीं पड़ेगा।

यदि आप एन्जाइम इंड्यूसर (जैसे डिलान्टिन, रिफाम्पिसीन, ग्रिसीयोफुलविन या सेंट. जॉन्स वॉर्ट) का प्रयोग कर रही हैं तो क्या ईसी कम प्रभावी होगा?

  • दवाएं और हर्बल औषधियां जो नियमित गर्भनिरोधक गोलियों का प्रभाव कम करती हैं, ईसी गोलियों के प्रभाव को भी कम कर देंगीं। इसलिए यदि आप एन्जाइम इंड्यूसर का प्रयोग कर रही हैं तो ईसी की खुराक बढ़ाना ठीक रहेगा। खुराक में की जाने वाली बढ़ोतरी के लिए आपको अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

ईसी की गोलियों से मुझे उल्टी हो तो क्या करूँ?

  • मतली और उल्टी को रोकने के लिए, आप ईसी की पहली खुराक खाने से एक घंटे पहले बिना पर्ची के मिलने वाली मतली–रोकने की दवा खा सकती हैं। ध्यान रखें इससे आपको नींद आ सकती है।

  • यदि आपको ईसी की खुराक लेने के एक घंटे के भीतर उल्टी हो जाए, तो आपके शरीर द्वारा हार्मोन्स को अवशोषित नहीं करने पर आप फिर से खुराक लेना चाहेंगी।

References

[1] Black, K. I., & Hussainy, S. Y. (2017). Emergency contraception: Oral and intrauterine options. The Royal Australian College of General Practitioners . Retrieved from https://www.racgp.org.au/download/Documents/AFP/2017/October/V2/AFP-2017-10-Focus-Emergency-Contraception.pdf
[2] Dr Marie Marie Stopes International. (2017). Contraception. Retrieved from http://www.mariestopes.org.au/wp-content/uploads/Contraception-brochure-web-200417.pdf
[3] FSRH Faculty of Sexual & Reproductive Healthcare. (Amended 2017). FSRH Guideline Emergency Contraception. London. Retrieved from https://www.fsrh.org/standards-and-guidance/documents/ceu-clinical-guidance-emergency-contraception-march-2017/
[4] FPA the sexual health charity. (2017). Your guide to emergency contraception. Retrieved from https://www.fpa.org.uk/sites/default/files/emergency-contraception-your-guide.pdf
[5] FPA the sexual health charity. (2017). Emergency contraception. Retrieved from https://www.fpa.org.uk/sites/default/files/emergency-contraception-pdf-information.pdf
[6] ICEC The International Consortium for Emergency Contraception . (2018). EMERGENCY CONTRACEPTIVE PILLS: Medical and Service Delivery Guidance. Endorsed by FIGO. Retrieved from https://www.cecinfo.org/wp-content/uploads/2018/12/ICEC-guides_FINAL.pdf
[7] Matyanga, C. M., & Dzingirai, B. (2018). Clinical Pharmacology of Hormonal Emergency Contraceptive Pills. International Journal of Reproductive Medicine. Retrieved from https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6193352/
[8] Trussell, et al. (2019). Emergency Contraception: A Last Chance to Prevent Unintended Pregnancy. Office of Population Research, Princeton University. Retrieved from https://ec.princeton.edu/questions/ec-review.pdfhttps://ec.princeton.edu/questions/ec-review.pdf
[9] The American College of Obstetricians and Gynecologists. ((Reaffirmed 2018)). Emergency Contraception. Washington, D.C. Retrieved from https://www.acog.org/-/media/project/acog/acogorg/clinical/files/practice-bulletin/articles/2015/09/emergency-contraception.pdf
[10] Upadhya, K. K. (2019). Emergency Contraception. AAP COMMITTEE ON ADOLESCENCE. Retrieved from https://pediatrics.aappublications.org/content/pediatrics/144/6/e20193149.full.pdf
[11] World Health Organization . (2018). Emergency contraception. World Health Organization . Retrieved from https://www.who.int/news-room/fact-sheets/detail/emergency-contraception
[12] World Health Organization Department of Reproductive Health and Research and Johns Hopkins Bloomberg School of Public Health Center for Communication Programs (2018) Family Planning: A Global Handbook for Providers. Baltimore and Geneva. Retrieved from https://apps.who.int/iris/bitstream/handle/10665/260156/9780999203705-eng.pdf?sequence=1
[13] World Health Organization. (2016). Selected practice recommendations for contraceptive use. Geneva. Retrieved fromhttps://apps.who.int/iris/bitstream/handle/10665/252267/9789241565400-eng.pdf?sequence=1


lang हिन्दी